top of page
  • Writer's pictureBSP

Rashi, Dhruv aur Baaten



" कभी कभी लगता है राशि, हमारा प्यार stock market

जैसा है। हर चीज से फर्क पड़ता है इसे देश में किसी फसाद

के होने से, पिता जी के बेवजह डाँट देने से, यहाँ तक कि

online exam में कम नंबर आ जाने से भी "



" तुम कुछ भी बोलते हो ध्रुव । तुम्हें कुछ नहीं पता, ना stock

market का और ना ही प्यार का "


 

Written by: Shubham

223 views0 comments

Recent Posts

See All

Comments


bottom of page